poetry images | Geo News-Cricket,Poetry,Islam,Health,Tech and Fashion

Urdu Shayari on Love- Amazing Poetry- Dosti Shayari- Friendship Shayari

KON KEHTA HAI SAVRNE SE BARHTI HAI KHUBSOORTI DILON MAIN CHAHT HO TU CHEHRE YOUN HI NIKHAR ATE HAIN   कोण कहता है सवरने से बढ़ती है खूबसूरती  दिलों में चाहत हो तो चेहरे यूँ ही निखर आते हैं    

Read more

Amazing Poetry- New Poetry in Urdu- Best Urdu Poetry in the World- Short Poetry in Urdu

ISHQ MAIN DHUKA KHANE LAGY HAIN LOOG DILL KI JAGA JISM KO CHAHNE LAGE HAIN LOOG     इश्क़ में धोका खाने लगी हैं लोग डिल की जगह जिस्म को चाहने लगे हैं लोग      

Read more

Urdu Poetry-Amazing Poetry-latest Poetry-Hindi Shayari-Urdu Shayari

LAKH ISHQ KARO LAKIN ITNA DHIYAN RAHY K TUM KO PEHLI MUHABBAT KI BADDUA NA LAGY   इसे प्यार करें, लेकिन सावधान रहें आपको पहले प्यार का पछतावा नहीं होगा

Read more

Urdu Shayari-Hindi Shayari-Attitude Shayari-Amazing Poetry

MUSHKALON MAIN INKAAR AUR KHUSHION MAIN PYAR KRTAY HAIN JANAAB ! AB TU LOG RISHTON MAIN BHI KAROBAAR KRTY HAIN   मुश्किलों मैं इनकार और खुशिओं मैं प्यार करते हैं जनाब ! अब तू लोग रिश्तों में भी कारोबार करती हैं

Read more

Urdu Shayari,Hindi Shayari,Latest Shayari,Amazing Poetry,Latest Poetry

HUM HOWAY KIA KHAFA ZARA TUM SAY JIS KO DEKHO TUMHARA HO GIA HAI हम होवय किआ ख़फ़ा ज़रा तुम से  जिस को देखो तुम्हारा हो गया है

Read more

Poetry sad-Sad urdu shayari-Sad love poetry in urdu-Amazing Poetry

AJEEB HAAL BNAYA ISHQ NY K HUM BHIGI ANKHON SY BHI MUSKURATAY HAIN अजीब हाल बनाया इश्क़ न्य क  हम भीगी आँखों सी भी मुस्कुराते हैं

Read more

Amazing Poetry-New Poetry in Urdu-Best Urdu Poetry in the World-Short Poetry in Urdu

Read more

Sad poetry in urdu 2 lines-full sad poetry-sad shayari in urdu

JO ASHQ DEKH KR BHI HANSTA RAHA HAI, AYSA SHAKHS IS DILL MAIN BASTA RAHA HAI YAAD USKI IK CHOOT JESI RAHI HAI, KHAYAL SANP BAN KR DASTA RAHA HAI   जो अश्क़ देख कर भी हँसता रहा है, ेसा शख्स इस डिल में बसता रहा है याद उसकी इक छूट जैसी रही है, ख्याल सांप बन क्र दस्ता रहा है    

Read more

Amazing sad poetry-sad poetry sms in urdu-Poetry sad

RUKHSAT HOWA TO ANKH MILA KR NAHI GIA. WO KIUN GIA HA YE BHI BTA KR NAHI GIA HA रुख्सत होवे तो आंख मिला कर नहीं गया. वो किउं गिआ हा ये भी बता कर नहीं गया है

Read more

Amazing Poetry Urdu- Sad Love Poetry in Urdu- Poetry Sad

SANSON KE SILSLY KO NA DO ZINDAGI KA NAM JENE KE BA WAJOD BHI MAR JATE HAIN KUCH LOOG     साँसों के सिल्सली को ना दो ज़िन्दगी का नाम  जेने के बा वजूद भी मर जाते हैं कुछ लोग  

Read more