Sad Poetry Geo News-Cricket,Poetry,Islam,Health,Tech and Fashion

Amazing Poetry- Sad Love Poetry in Urdu- Poetry Sad

WO MUJHSE POCHTI HAI KIA ZINDAGI MOOT HAI? MAIN KHAMOOSH RAHTA HON AUR DILL HI DILL MAIN KAHTA HON TUJHY PA LIYA TO ZINDAGI AUR TUJHY KHO DIYA TU MOOT HAI         वो मुझसे पूछती है किआ ज़िन्दगी मूत है? मैं खामोश रहता हूँ और डिल ही डिल मैं कहता हूं  तुझी पा लिया तो ज़िन्दगी और तुझी खो दिया तू मूत है

Read more

Amazing Poetry- Sad Love Poetry in Urdu- Poetry Sad

TOOT KR CHAHNA AUR PHIR TOOT JANA BAT MUKHTASAR SE HAI MGAR JAN NIKAL DETI HAI     टूट कर चाहना और  फिर टूट जाना बात मुख़्तसर से है  मगर जान निकाल देती है  

Read more

Amazing Poetry- Poetry Sad-Sad Love Poetry in Urdu

OWQAAT OWQAAT SE ZIYADA MUHABAT KR LI IS LIAY BRDASHT SE ZIYADA DARD MILA         ौकात  ौकात से ज़ियादा मुहबत क्र ली  इस लिए बर्दाश्त से ज़्यादा दर्द मिला

Read more

Poetry Sad- Amazing Poetry- Sad Love Poetry in Urdu

URA DEATI HAIN NENDAIN BHI KUCH ZIMADARIAYIN GHAR KI- DYAR TK JAGNE WALA HR SHAKHS ASHIQ NAHI HOTA       उड़ा देती हैं ननदें भी कुछ ज़िमदरिआईं घर की- द्यर तक जागने वाला हर शख्स आशिक़ नहीं होता

Read more

Amazing Poetry- Sad Love Poetry in Urdu- Poetry Sad

BOHOT KOSHISH MAIN KRTA HUN  ANDHYRY KHATAM HUN LYKIN KAHIN JUGNU NAHI MILTA ,  KAHIN PE CHAND ADHA HAI     बोहोत कोशिश मैं करता हूँ  ांधीरी ख़तम हुन लैकिन कहीं जुगनु नहीं मिलता ,  कहीं पे चाँद आधा है

Read more

Amazing Poetry- Sad Love Poetry in Urdu- Poetry Sad

BS EAK SHAKHS KI JUDAI SE HR AK SHAKHS ZAHAZ LAGTA HAI         बीएस एअक शख्स की जुदाई से  हर एक शख्स ज़हाज़ लगता है

Read more

Amazing Poetry- Poetry Sad-Sad Love Poetry in Urdu

WO NA MILAN  TU KIA HOWA YE ISHAQ HAI HAWS NAHI MAIN UNHIN KA THA UNHIN KA HON WO MERE NAHI TU NA SAHI         वो न मिलन  तू किआ होवा ये इश्क़ है हवस नहीं मैं उन्हीं का था उन्हीं का हो वो मेरे नहीं तू न सही

Read more

Poetry Sad- Sad Love Poetry in Urdu- Amazing Poetry

PTA NAHI KITNA NARAZ HAI WO MUJHSE KHAWBUN MAIN BHI MILTA HAI TU BAAT NAHI KRTA   पता नहीं कितना नाराज़ है वो मुझसे  खावबुन मैं भी मिलता है तू बात नहीं करता    

Read more

Sad Love Poetry in Urdu- Poetry Sad-Amazing Poetry

WO JINHAIN NEEND NAHI AATI UNHIN KO HAI MAALOM K SUBHA AANE MAIN KITNY ZMANE LAGTY HAIN     वो जिन्हें नींद नहीं आती उन्हीं को है मालूम  क सुबह आने में कितनी ज़मने लगती हैं

Read more