2 line urdu love shayari | Page 2 of 15 | GeoNewsTV

Urdu hindi shayari-Hindi shayari-Amazing Love poetry-Amaing poetry

QARAAR MILTA HI NAHI TERY BEGHAIR SAJ SANWAR K BHI UDAAS REHTY HAIN करार मिलता ही नहीं तेरी बग़ैर सज संवर क भी उदास रेहटी हैं

Read more

Shayari urdu love-Amazing poetry-Urdu hindi shayari-Hindi shayari

HUM SAY TALUQ RAKHO TABIYAT THEEK RAHY GI . HUM WO HAKEEM HAIN JO LAFZOON SAY ELAAJ KRTY HAIN हम से तालुक़ रखो तबियत ठीक रहय गई . हम वो हकीम हैं जो लफ़्ज़ून से इलाज करती हैं

Read more

Urdu poetry about love-Love poetry images-Amazing Love Poetry

KOI BHI KISI KI MALKIYAT NAHI HOTA PR PHIR BHI HUM CHAHAT MAIN ITNAY PAGAL HO JATY HAIN K KHAWAISH KRNY LAGTAY HAIN K WO SIRF HAMARA HA . कोई किसी का मालिक नहीं है लेकिन हम अभी भी चाहते हैं पर इतना पागल हो कुछ सोचने लगते हैं कि वे सिर्फ हम हैं।

Read more

Urdu sms poetry-Amazing poetry-Urdu shayari on love

MERA PAGAL SA PYAR HO TUM IS DIL K EKLUTAE HAQDAAR HO TUM मेरा पागल सा प्यार हो तुम  इस दिल क एकलउतै हक़दार हो तुम

Read more

Love Romantic Poetry-Love Poetry SMS-Amazing Poetry

HAMARE PAAS AA JAO HAMARI ZULFE SE KHYLO TUMHARI KHUBSOORAT UNGLION KO KHUBSOORAT KAM DENE HAIN   हमारे पास आ जाओ हमारी ज़ुल्फ़े से खिलो  तुम्हारी ख़ूबसूरत उंगलिओं को ख़ूबसूरत काम देने हैं

Read more

Poetry in Urdu on Love-Urdu Shayari on Love-Amazing Poetry

KESE KAHON K IS DIL K LIYE KITNE KHAS HO TUM FASLE TU QADMON K HAIN PR HAR WAQT DIL K PAS HO TUM   कैसे कहूँ क इस दिल क लिए कितने ख़ास हो तुम फसले तू क़दमों क हैं पर हर वक़्त दिल क पास हो तुम

Read more

Poetry in urdu on love-Loving poetry in urdu-Amazing Poetry

BETH MERY SAMNAY TUJ SY KALAM KRON. LAFZ AK NA BOLON ZINDAGI TERY NAAM KRON. बेथ मेरी सामने तुज सी कलम क्रों. लफ्ज़ एक न बोलों ज़िन्दगी तेरी नाम क्रों.

Read more

Urdu sms poetry-Amazing poetry-Shayari on love in urdu

ZARORI NAHI K MUHABBAT MAIN ROZ BATAIN HON . KHAMOSHI SAY AK DOSRY KO DEKHNA BHI TU ISHQ HAI. ज़रूरी नहीं क मुहब्बत मैं रोज़ बातें हों . ख़ामोशी से एक दोसरी को देखना भी तू इश्क़ है.

Read more

Love Poetry SMS-Shayari Urdu Love-Amazing Poetry

AB KHUD HI LAGA LI JIYE RUKHSAR LABUN SE HUM ISHAQ KE MARON SE MUSHAQT NAHI HOTI   अब खुद ही लगा ली जिए रुख्सार लबन से हम इश्क़ के मारों से मशक्त नहीं होती

Read more

Love Romantic Poetry-Love Poetry SMS-Amazing Poetry

KITNI BARKAT HAI TERE ISHQ MAIN JAB SE HUA HAI BADH HI RAHA HAI   कितनी बरकत है तेरे इश्क़ में जब से हुआ है बढ़ ही रहा है  

Read more