sad poetry love | Page 2 of 2 | GeoNewsTV

Sad poetry in urdu-Sad poetry about life-New Sad Poetry 2020

MUHABBAT KA IZHAR TBHI KRO JB USE NIBHA SAKO BAAD MAIN MAJBORIYON KA SAHARA LE KR KISI KO CHOR DENA WAFA DARI NAHIN HOTI   मोहब्बत का इज़हार तभी करो जब उसे निभा सको बाद मैं मजबूरियों का सहारा ले कर किसी को छोड़ देना वफ़ा दारी नहीं होती  

Read more

Sad poetry about love-Sad poetry love-Sad poetry lover-Sad poetry urdu

MUHABBAT DALDAL KI TARHAN HOTI HAI JO IS MAIN CHALA  GAYA WO VAPIS NAHIN ATA मुहब्बत दलदल की तर्हां होती है जो इस मैं चला गया वो वापिस नहीं आता  

Read more

Sad poetry love-Sad poetry lover-Sad poetry urdu-Sad poetry in urdu

TEHREER MAIN SIMATTE KAHAN HAIN DILON KE DARD BEHLA RAHY HAIN KHUD KO ZARA KAGHZON KE SATH   तहरीर में सिमटते कहाँ हैं दिलों के दर्द बहला रही हैं खुद को ज़रा काग़ज़ों के साथ

Read more